मंगलवार, 15 जनवरी 2019

जिंदगी तेरा मेरा रिश्ता बड़ा अजीब है

(फोटो गूगल से साभार)


जिंदगी तेरा मेरा रिश्ता बड़ा अजीब है
कभी तुम मुझे देख कर हँसती  हो 
तो कभी मैं तुम्हें देख कर हँसता हूँ 

संग संग तुम्हारे चलना बड़ा अनोखा है
कभी तुम मेरे पीछे होती हो 
कभी मैं तुम्हारे पीछे होता हूँ 

तुम हो क्या, समझना मुश्किल है जरा 
हर रूप अलग सा है तुम्हारा 
हर पल तुम संग विचित्रताओं से भरा  

तुम अहसास हो कभी, तो कभी आभास हो
तुम नीम हो कभी , तो कभी मिठास हो
बेशक एक पहेली हो, पर मेरे लिए ख़ास हो 

जिंदगी, हम तुम सदा ऐसे ही लड़े झगडे
हँसे हँसाएँ आपस में और कभी रूठे मनाएँ
पर साथ अनूठा बना रहे, ऐसे ही बस चलते जाएँ



शुक्रवार, 12 अक्तूबर 2018

निमिया के डाढ़ी मैया

(फोटो गूगल से साभार)


निमिया के डाढ़ी मैया एक प्रचलित माता गीत है बिहार, उत्तरप्रदेश आदि क्षेत्रों में।  इस गीत का लिरिक्स (बोल)  ढूंढ रहा था इंटरनेट पे हिंदी में, मुझे नहीं मिला।  फिर मैंने गाना सुनकर उसका लिरिक्स खुद से लिखा है।  मुझे यह गीत बहुत ही पसंद है। यहाँ साझा कर रहा हूँ शायद कोई सज्जन लिरिक्स (बोल) ढूंढे तो उसे यह मिल जाए। अगर कुछ त्रुटि हो तो कृपया टिपण्णी (कमेंट) करके मुझे जरूर बताएँ मैं उसमें सुधार करूँगा। 

|| जय माता दी ||  

निमिया के डाढ़ी मैया - २ 
डाले ली असनवा 
कि झूमी झूमी ना 
मैया झूले लीं झुलनवा 
कि झूमी झूमी ना 

सातो रे बहिनिया के भैरों हवें भैया 
आदि शक्ति देवी के अनेक बाटे नैया - २ 
जेकरा सहारा नईखे - २ 
राखे लीं शरणवा
कि झूमी झूमी ना 
मैया दे लीं वरदनवा 
कि झूमी झूमी ना  
मैया दे लीं वरदनवा 
कि झूमी झूमी ना  

कामरुख कमख्या कलकत्ता वाली काली 
मैहर में शारदा विंधाचल विंध वाली - २ 
काश्मीर में वैष्णो देवी - २ 
जाने ला जहनवा 
कि झूमी झूमी ना   
भक्त करे दर्शनवा 
कि झूमी झूमी ना 
भक्त करे दर्शनवा 
कि झूमी झूमी ना 

आरा ऐरन देवी विन्धा में महथिन दाई 
शीतला बनारस बाड़ी अन्नपूर्णा माई - २ 
बाड़ा भीड़ होला ओहि जा 
बाड़ा भीड़ होला धनतेरस के बिहनवा  
कि झूमी झूमी ना 
मैया दे लीं अन्न धनवा 
कि झूमी झूमी ना 
मैया दे लीं अन्न धनवा 
कि झूमी झूमी ना 

गजरा पछिन मष्तिका है मुर तारा रानी 
बारी उजियार धत मंगला भवानी - २ 
गहमर सकरा गढ़ में - २  
कमख्या   स्थनवा  
कि झूमी झूमी ना 
करे ला छाऊ बाबा पूजनवा 
कि झूमी झूमी ना 

भलनि भवानी पटन देवी थावे वाली 
बाड़ी डुमराव  डुमरेदिनी अउरी काली  - २ 
सावन सप्तमी के चढ़े - २ 
पुआ पकवनवा 
कि झूमी झूमी ना 
भरत गावे ले भजनवा 
कि झूमी झूमी ना 


निमिया के डाढ़ी मैया - २ 
डाली ली असनवा 
कि झूमी झूमी ना 
मैया झूले लीं झुलनवा 
कि झूमी झूमी ना 
मैया झूले लीं झुलनवा 
कि झूमी झूमी ना 



इस गीत का वीडियो लिंक : https://www.youtube.com/watch?time_continue=435&v=pqDJcIw3Qlw
(आप भी सुनेें, बहुत ही सुंदर गीत है। )




LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...